How to Overcome Failure | कैसे विफलता पर काबू पाए और सफलता हासिल करे

अगर आपने हाल ही में Failure का सामना किया है तो हम समझ सकते है की आपकी मानसिक अवस्था क्या होगी ।
आपका सर घूम रहा होगा और आपके विचार बहुत ही नेगेटिव होंगे, मन में कई हज़ारों सवाल खड़े हो रहे होंगे जैसे की यह मेरे साथ ही क्यों हुआ? मेरे साथ ही हर बार ऐसा क्यों होता है? मेरी तो किस्मत ही खराब है, इस तरह के हजारों सवाल और दूर – दूर तक अंधेरा ही दिख रहा होगा ।
लेकिन अभी के लिए सभी चिंताओं को छोड़ दे और पूरे दिल से इस लेख को पढ़िए क्योंकि इस लेख में हम शेयर कर रहे बहुत ही महत्वपूर्ण बातें जो आपके Failure के सिरदर्द को गायब कर सफलता के लिए नया जोश, उत्साह और प्रेरणा की नई साँसे आपके अंदर भरेगा ।
आइए तो शुरू करते है 5 ऐसी बातें जो आपके Failure नाम के रोग को दूर करने के लिए दवाई की तरह उपयोग करनी है ।

1 – Take Rest (छोटा-सा रेस्ट ले)
जैसे की हमने ऊपर बताया की अगर आपने हाल ही में Failure का सामना किया है तो आपका सिस्टम बहुत ही तेज़ चल रहा होगा और आप बहुत ही तनाव में होंगे ।
लेकिन अगर आप कोई समाधान चाहते है तो आपको इस परिस्थिति से बहार आना होगा मतलब की आपको आपके सिस्टम को थोड़ा शांत, धीमा करना होगा, आपके मन के विचारों पे लगाम लगाकर शांत होना होगा और इसके लिए यह बहुत ही जरूरी है की आप एक छोटा-सा रेस्ट ले ।
रेस्ट का मतलब है की आपको इस शोर – शराबे से अपने आपको दूर करना है और आपको ऐसी जगह जाना है जहाँ सिर्फ आप अपने साथ हो और आप अपने दिल की बातें सुन पाए, आप खुद को खुद की नजरों से देख पाए और आकलन कर पाए ।
कोशिश करे की आप थोड़े समय के लिए लोगों से कट कर प्रकृति के साथ जुड़े क्योंकि प्रकृति से आपको ऊर्जा और शांति मिलेगी जिससे आपके अंदर की थकावट कम होगी और आपका सिस्टम भी धीमा होगा ।
यह रेस्ट आपके मानसिक स्वस्थता प्राप्त करने के लिए बेहद जरूरी है इससे आप फिर से तरोताजा महसूस करेंगे और यह रेस्ट वाला स्टेप आपके आगे के स्टेप लेने में भी मदद करेगा ।

2 – Analyze Failure (विफलता का विश्लेषण करें)
अगर आपने पहले स्टेप को अनुसरण कर लिया है तो तकरीबन आपका सिस्टम धीमा, शांत हो गया होगा और अब आप अपने Failure की समीक्षा करने के योग्य स्थिति में पहुँच गए है ।
अब आपको अपने फेलियर की खुले दिल से समीक्षा करनी है इसके लिए पेन और नोटबुक लेकर लोगों से दूर एकांत जगह पर चले जाए, वहाँ जाकर थोड़ी देर के लिए आखें बंद कर शांति से बैठ जाए फिर धीरे – धीरे अपनी योजनाओं (plans) को देखे की आपने क्या सोचकर काम का आरंभ किया था? कैसे प्लान्स बनाए थे? किस ऊर्जा के साथ आगे बढ़े थे? कौन सी वजहें थी जिससे आपके प्लान्स fail हुए? किस कारण आपको आपका मन चाहा परिणाम नहीं मिला? ऐसे शुरू से अंत तक आपको सभी बातें सोचनी है और जो भी महत्वपूर्ण पॉइंट लगे इसे नोटबुक में लिखते रहना है ।
अब आपके सामने पूरा प्लान खुला हुआ है, आप खुले दिल से देखे की कौन – कौन सी आपकी गलतियाँ थी जिससे आपको Failure का मुँह देखना पड़ा ।
अपनी सभी गलतियों की लिस्ट बना लीजिए और फिर देखिये की अभी इसमें से ऐसी कितनी गलतियाँ है जिसे अभी भी आप सुधार सकते है और अगर आप अभी भी सुधार सकते है तो अभी से लग जाए अपनी गलतियों को सुधारने के काम में ।

3 – Understand Failure and Focus on Learning (विफलता को समझे और सीखने पर ध्यान केंद्रित करे)
समझ लीजिए कि फेलियर अंत नहीं है, यह एक नई शुरुआत है ।
अब आपका सिस्टम भी शांत है और आपने अपनी गलतियाँ भी पकड़ ली है तो अब बारी है हमारे Failure को समझने की ।
आपके हाथ में जो था वो आपने अब तक बेस्ट कर लिया जैसे गलतियाँ भी पकड़ी और उसे सुधारने की कोशिश भी की और अब हमें अपने Failure को और गहराई से जानना है ।
हमेशा याद रखे fail आपके प्लान होते है आप नहीं ।
हम जब तक चलते रहते है, जब तक हार नहीं मानते तब तक हम कभी fail नहीं है, अगर आज आपने Failure का सामना किया है तो वो आपके प्लान्स की नाकामयाबी है आपकी नहीं, आप फिर से अपने नए प्लान के साथ आगे बढ़ सकते है और बेहतर परिणाम पा सकते है । ऐसा कई लोगों ने किया है और यह बहुत ही आसान है ।
फेलियर का मतलब आपका अंत नहीं है बल्कि आपकी नई शुरुआत है अपने नए अनुभव के साथ ।
फेलियर कोई अंतिम लक्ष्य या श्राप नहीं है वो तो सफलता (Success) के रास्ते में आने वाला एक छोटा-सा भाग है इसलिए बार – बार फेलियर के बारे में सोचकर खुद को नीचे ना गिराए, खुद को अपराधी या दोषी ना साबित करे बल्कि फेलियर को समझकर आगे बढ़े ।
अगर आप बारीकी से देखेंगे तो आपको समझ आजायेगा की विफलता तो एक मात्र इशारा भर है सफलता की तरफ और मजबूती से आगे बढ़ने के लिए इसलिए बिना घबराहट आगे बढ़े ।

4 – Move Forward and Try again (आगे बढ़े और फिर से कोशिश करे)
अब तक आपने अपनी गलतियाँ भी जान ली है और इससे आपने बहुत सिख भी लिया है, अब बारी है फिर से नई शुरुआत की, फिर से नए प्लान्स बनाने और उसपर काम करने की ।
अपने इस नए अनुभव का उपयोग कर के नए प्लान गठित करे और कैसे आगे बढ़ना है, कैसे समस्याओं का सामना करना है और अगर फिर से आपके प्लान्स काम नहीं कर रहे तो इस स्थिति से कैसे निपटना है यह सब आप सोच, समझ और अनुभव का उपयोग कर के प्लानस बनाए ।
फिर पूरे जोश, ऊर्जा और अपने अनुभव के साथ काम पर लग जाइए और भरोसा रखे बेहतरीन दिन, परिणाम आने वाले है ।
The Best is Yet to Come.
5 – Improve and Inspire Your self (अपने आप में सुधार और अपने आपको प्रेरित करे)
अब आपकी मानसिक अवस्था बहुत ही मजबूत औरसकारात्मक (Positive) होगी लेकिन फिर भी कुछ ऐसी आदतें (Habits) है जिसे हमे अपने जीवन में अपनाना चाहिए जिससे आप हर दिन सकारात्मकता और ऊर्जा से भरे रहे चाहे आपके प्लान काम करे या ना करे चाहे आप सफलता अर्जित करे या ना करे लेकिन आपका मन हमेशा खुश और सकारात्मक रहेगा और यही बुनियादी सफलता है ।
Self–belief (आत्मविश्वास)
खुद पे यकीन रखे आप जो भी हो, आप जो भी कर रहे हो आप इसमें सबसे बेस्ट है, आप में वो काबिलियत है जिससे आप अपने सभी सपनों को साकार कर लेंगे ।
आप में वो हर हुनर, काबिलियत है जो एक सफल व्यक्ति में होनी चाहिए इसलिए कभी भी अपने आप को किसी से कम या छोटा मत मानो, आप में, मेरे में,Sandeep Maheshwari में और Narendra Modiमें सब में एक ही ऊर्जा है, एक ही शक्ति है बस फर्क है तो चाहना (desire) और समर्पण (dedication) का बस आप भी अपने desire चुन ले और काम में अपने आपको पूर्ण समरपित कर दीजिए और कल लोग सफलता के लिए आपका ही उदाहरण देंगे ।
Read Positive Books (सकारात्मक किताबें पढ़ें)
यह बहुत ही जरूरी है अगर आप अपने अंदर से Positive होना चाहते है तो Books पढ़ने को अपनी रोज़ाना आदतों में शामिल कर लो ।
रोजाना कुछ अच्छी Positive Books पढ़े इससे आपको अंदरूनी शक्ति, ऊर्जा और ज्ञान प्राप्त होगा और सही ज्ञान से आपके अंदर का डर ख़तम हो जायेगा और नया आत्मविश्वास (Self-confidence) प्रज्वलित होगा ।
Do Meditation Regular (हररोज ध्यान करे)
यह एक और आसान और शक्तिशाली तकनीक है जिसके जरिये आप अपने अंदर के अंधेरे को ख़तम कर के आध्यात्मिक उजाले की और आगे बढ़ सकते है जिसके जरिए आप सुख, शांति और संपूर्णता प्राप्त कर सकते है ।
यह मेरी सबसे पसंदीदा आदतों में से एक है आप भी इसे अपने जीवन में अपनाए और इससे आपके अंदर एक दिया प्रज्वलित होगा जो आपका हर अंधेरे में दिशा निर्देश करेगा ।
Become Friend to Yourself (खुद के अच्छे मित्र बन जाए)
खुद को खुद से ज्यादा ना कोई जान सकता है और ना ही कोई समझ सकता है ।
इसलिए खुद के अच्छे मित्र बन जाए, खुद से बातें करना सीखें, खुद को ही सवाल करे और खुद से ही जवाब मांगे और जब अंदर से जवाब मिलने शुरू हो जायेंगे तो दुनिया की कोई भी ताकत आपको ना तो नकारात्मक कर पाएगी और नहीं परेशान ।
प्रिय मित्रों हमारा काम यही तक था की आपके सामने सही और आसान बातें रखे, जो आपकी मुश्किलों को तोड़ कर आपको एक हौसला दे, उम्मीद दे और प्रेरणा दे अब आपकी बारी है की आप इसे अपने जीवन में कैसे अपनाते है और इसका किस तरह का फायदा प्राप्त करते है ।
प्रिय मित्रों आप यह जरूर खयाल रखे की कोई कितना भी बड़ा शानदार प्लान हो लेकिन जब तक उस परAction नहीं लेते वो बेकार है इसलिए हमने तो अपनी तरफ से एक शानदार लेख आपके सामने रख दिया है अब Action लेने की बारी आपकी है ।
प्रिय मित्रों आपको हमारा यह लेख How to overcome Failure and achieve Success कैसा लगा और आपके सुझाव कृपया comment के माध्यम से जरूर बताइयेगा, धन्यवाद ।

Advertisements

पिता कभी करते थे मजदूरी, बेटे ने बिजनेसमैन बन खड़ी की अरबों की कंपनी

FB_IMG_1489490518106

पिता कभी करते थे मजदूरी, बेटे ने बिजनेसमैन बन खड़ी की अरबों की कंपनी

कहते हैं किसी भी बिजनेस को सक्सेस दिलाने के लिए पैसा जरूरी नहीं होता। एक यूनीक आइडिया और कड़ी मेहनत भी आपको सफल बना सकती है। केरल में एक शख्स ने कुछ ऐसा ही कर दिखाया है। जी हां, एक मजदूर के बेटे ने कुछ साल पहले महज 25 हजार रुपए से खुद की कंपनी शुरू की और आज उसका टर्नओवर 100 करोड़ के पार पहुंच चुका है। हम बात कर रहे हैं केरल के वयनाड के रहने वाले पीसी मुस्तफा की। वे मुंबई, दिल्ली, कोलकाता, बेंगलुरु, पुणे समेत दुबई में ‘रेडी टू कुक पैकेज्ड फ़ूड’ का सफल कारोबार कर रहे हैं। जाने कैसे एक आइडिया से बन गए करोड़पति…

– मुस्तफा कहते हैं कि वे बिजनेसमैन बनेंगे ये कभी सोचा तक नहीं था। इंजीनियरिंग में नाम कमाना चाहते थे। इसी बीच एक दिन भाई शमसुद्दीन ने एक स्टोर पर रबर बैंड से पैक पन्नी में इडली-डोसे का घोल बिकते देखा। उन्होंने ऐसे घोल के पैक बनाकर सप्लाई करने का आइडिया दिया।

बचपन में छोड़नी पड़ी थी पढ़ाई…
– मुस्तफा ने अपने बारे में बताया, “उनके पिता एक मज़दूर थे और उन्हें छठवीं क्लास में पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी।” उनके टैलेंट की वजह से टीचर मैथ्यू ने उन्हें पढ़ाई जारी रखने को कहा, पर वे छठवीं में फेल हो गए थे। इसके बाद पीसी ने हर क्लास में टॉप किया। कोलकाता से इंजीनियरिंग करने के बाद उन्हें कई मल्टीनेशनल कंपनियों में काम करने का मौका मिला।

नौकरी के बाद आईआईएम से किया MBA

करीब 7 साल तक एमएनसी में नौकरी करने के बाद पीसी भारत लौटे। आईआईएम में एडमिशन पाना आसान नहीं, पर उन्होंने एमबीए करने की ठानी और आईआईएम बेंगलुरु में एडमिशन लिया। मैनेजमेंट की पढ़ाई के दौरान ही उनके दिमाग में यह बिजनेस आइडिया आया। जो आगे चलकर एक ग्लोबल कारोबार में तब्दील हुआ।

1000 करोड़ के टर्नओवर का लक्ष्य
– सिर्फ 25,000 रुपयों से ‘पैकेज्ड इडली और डोसा के रेडी टू मेक’ बनाने वाली कंपनी ‘आईडी’ शुरू की। शुरुआत में वे खुद 20 स्टोर्स जाकर रोजाना 100 पैकेट की डिलिवरी करते थे। वक्त के साथ उनका बिजनेस बढ़ता चला गया और आज कंपनी का टर्नओवर 100 करोड़ के पार हो चुका है। मुस्तफा अगले पांच सालों में कंपनी का टर्नओवर 1000 करोड़ तक पहुंचाना चाहते हैं।
– आज उनकी कंपनी में एक हजार से ज्यादा लोग काम करते हैं।

5-6 साल में 5,000 लोगों को रोजगार देने का है लक्ष्य

– मुस्तफा अपनी 100 करोड़ की आईडी कंपनी को पांच से छह साल 1,000 करोड़ रुपए की कंपनी बनाना चाहते हैं।
– अाज वह 1,100 को रोजगार दे रहे हैं। पांच-छह साल में उनका लक्ष्य कम से कम 5,000 लोगों को रोजगार देने का है। ऐसी है इनकी फैमिली| मुस्तफा कहते हैं, मैं एक छोटे से गांव चेन्नालोड में बड़ा हुआ। वे सिर्फ ग्रामीण युवाओं को ही नौकरी देते हैं।
– भाई-बहनों में सबसे बड़ा था, तीन छोटी बहनें। उनके चार चचेरे भाइयों – नासेर, शमसुद्दीन, जफर, नौशाद ने साथ दिया।

Habits Of Successful People :सफल लोगो की ८ आदतें

                   7-habits-emotionally-successful-people-fb

दोस्तों ! क्या आपने कभी सोचा है की एक औसत व्यक्ति और एक सफल व्यक्ति में क्या फर्क होता है. अगर नहीं तो मैं बताता हूँ, एक सफल और एक सामान्य व्यक्ति में बहुत बड़ा अंतर होता है – आदतों (Habits) का. वे हमारी आदते ही होती है जो हमें सफल या असफल बना सकती है. इस पोस्ट में आज हम आपके साथ सफल लोगो की 8 अच्छी आदते शेयर कर रहे हैं जो सफल लोगो को एक सामान्य व्यक्ति से अलग बनाती है.

आप किसी भी Successful Person के बारे में जाने तो आप पाएंगे की उनकी आदते सामान्य लोगो से कुछ अलग होती है. जिस कारण वे सफल होते जाते है वही एक Average Person हमेशा ही आलस में डूबा रहता है व खुद की बुरी आदतों को नहीं बदलता.
उसे अगर कुछ अच्छी आदतों के बारे में बताया भी जाए तो भी उसे अपनाता नहीं. इसी वजह से वह सफल नहीं हो पाता. तो आगे आप पढ़िए सफल लोगो की 8 अच्छी आदते जो उन्हें बनाती है Successful

👍 सुबह जल्दी उठना
सफल लोगो की आदतों में यह आदत सबसे ऊपर रहती है. सफल लोग हमेशा सुबह जल्दी उठ जाते है. सुबह जल्दी उठने से उनका दिन हमेशा बड़ा होता है जिससे उनके पास किसी काम को करने के लिए जादा समय होता है. सुबह जल्दी उठकर सफल लोग अपने दिन की एक नयी शुरुआत करते है और जो दिनभर के उनके कम होते है उन्हें सुबह उठने के बाद अपनी योजना के हिसाब से पूरा करते है.

अगर आपका देर रात को कोई काम नहीं होता तो जल्दी सोने की कोशिश करे और सुबह जल्दी उठने की आदत बनाये. सुबह जल्दी उठने से आपको इसके फायदे नजर आने लग जायेंगे. सुबह जल्दी उठने से आपका स्वास्थ्य अच्छा होगी, आपके पास पूरे दिन में अतिरिक्त समय होगा, आप अपने दिनभर के काम को आसानी से पूरा कर सकते हो. इसलिए आज से ही यह मन बना ले की कल से जल्दी उठने की आदत डाल लूँ.

👍 हार्ड वर्क करते रहना
चाहे आप किसी भी क्षेत्र में काम करते हो, नौकरी करते हो, बिजनेस करते हो या पढाई करते हो, अगर आपने उस काम या स्टडी में सबसे बेस्ट होना है तो आपको हार्ड वर्क करने की आदत डाल लेनी चाहिए. Hard Work का मतलब होता है की उस काम से संबंधित आप लगातार मेहनत करते जाए. उस काम को सिर्फ करने के लिए मत करे बल्कि उस काम को 100% अच्छा बनाने के लिए लगे रहे.

सफल लोगो की यह आदत खास होती है वे अपने काम को हमेशा हार्ड वर्क से करते है. अपने काम में वे कभी आलस नहीं दिखाते. वे जानते है की अगर उन्होंने कड़ी मेहनत नहीं की तो वे पीछे रह जायेंगे और कुछ बड़ा नहीं कर पाएंगे.
किसी भी फील्ड से संबंधित काम को देख ले उसमे हमेशा वही No. 1 होता है जो हमेशा कड़ी मेहनत करता है. जो बिना हार्ड वर्क के काम करेगा वह सिर्फ खुद को तस्सली देने के समान है. कुछ बड़ा अचीव करने के लिए हार्ड वर्क तो करना ही पड़ेगा. अब यह आपके ऊपर है की आप क्या चाहते है.

👍 लगातार स्टडी करते रहना
लगातार स्टडी करते रहना, यह लाइन आपको कुछ बोरिंग (Boring) रही होगी. आप सोच रहे होंगे की हमेशा कौन पढता रहे. मैं यहाँ पर आपको वो स्कूल की किताबें पढने के लिए नहीं बोल रहा बल्कि मैं आपसे वह पढ़ने के लिए बोल रहा हूँ जो आपके लिए बहुत जरुरी है. एक क्रिकेटर क्या हमेशा सिर्फ प्रैक्टिस करने से महान क्रिकेटर बन जायेगा. कभी नहीं ! जब तक Cricket से रिलेटेड उसके अंदर पूरी निपुणता न आ जाए वह महान नहीं बन सकता.

एक सफल व्यक्ति हमेशा अपने काम से संबंधित व कुछ नया सीखने के लिए हमेशा कुछ न कुछ Study करते रहता है. सफल लोगो को जब भी Free Time मिलता है वे कुछ सीखने के लिए पढाई करते रहते है. जो लोग अच्छी चीजे पढ़ते रहते है वो लोग सामान्य लोगो से ज्यादा सुलझे हुए होते है.

कोई भी अच्छी पुस्तक या आर्टिकल पढने से तनाव का स्तर कम होता है जिससे लाइफ में सकारात्मक उर्जा आती है. इसलिए सामान्य व्यक्ति से अलग नजर आना है तो आज ही से कुछ न कुछ अच्छा पढना शुरू कर दे.

👍 दिमाग को शांत रखना
दिमाग को शांत रखना हर सफल इन्सान बहुत जरुरी मानता है. उनको पता होता है की अगर उनका दिमाग शांत नहीं रहेगा तो वे अपने काम व अन्य चीजो पर फोकस नहीं रख पाएंगे. खुद को शांत रखना एक बहुत बड़ा गुण है और जिसके अन्दर यह होता है वह कुछ खास होता है. हम जब भी शांत होते है तो किसी काम को बेहतर तरीके से करते है. अगर कुछ सोचना हो तो बहुत अच्छा सोचते है. जिसका रिजल्ट भी हमें बेहतर मिलता है.

कभी आप किसी सफल व्यक्ति से मिलना तब आप देखोगे की वे कितना शांत रहते है और शांति से बातचीत करते है. Successful लोग जानते है की यह सफलता की कुंजी है. खुद को शांत रखना सीखिए, यह एक दिन में नहीं आता. अपनी कोशिश करते रहिये कुछ ही दिन में आप देखोगे की आपके अंदर भी यह कला आ चुकी है.

खुद को शान्त रखने का सबसे बड़ा फायदा आपको यह होगा की जब भी आपके साथ कुछ बुरा होगा या समस्याएं आयेंगी तो आप उसका सामना और अच्छे तरीके से कर पाओगे.

👍 किसी मौके का इन्तजार नहीं करना
आप अपने काम को करने के लिए कोई मौका देखते है या उसे कर डालते है. कभी भी अपने काम को करने के लिए कोई खास मौका मत देखिये. अगर आपको लगता है की यह काम अभी करना जरुरी है तो उसे अभी करिए. उसे टालने की कोशिश मत करिए. ऐसे कई लोग होते है जो किसी काम को करने के लिए सही मौके का इंतजार करते है. उस मौके के इंतजार में वे खुद को ही धोखा देने की कोशिश करते है.

हर सफल व्यक्ति अपने जरुरी काम को करने के लिए किसी मौके का इंतजार नहीं करता. उनके लिए उस समय जो जरुरी होता है उसे कर डालते है. उनका यही Attitude उनको सफल बनाने में हेल्प करता है. आप अभी अपनी लाइफ की चाहे किसी भी स्टेज पर क्यों न हो. आपके लिए जो अभी जरुरी है उसे अभी कर दीजिये. किसी खास मौके के इंतजार में खुद को आलसी मत बनाइये.

👍 अपने फ्यूचर की प्लानिंग करना
इस दुनिया में ऐसे बहुत कम लोग होते है जो अपनी लाइफ की भविष्य की योजना तयार करते है. एक सामान्य व एक खास व्यक्ति में यह बड़ा अंतर होता है. सामान्य व्यक्ति कभी भी अपनी लाइफ में कोई फ्यूचर प्लानिंग नहीं करता. और कुछ सालो में वह देखता है की उसकी लाइफ में भटकाव आ चुका है. उसको अपने हालातो पर विश्वास नहीं होता. ऐसे लोग उस मुसाफिर की तरह होते है जिसको अपनी यात्रा का कुछ भी अंदाजा नहीं होता की उसे आखिर कहाँ पहुँचना है.

वही सफल लोग इस आदत में एक्सपर्ट होते है वे जो कुछ भी अपनी लाइफ के साथ करते है उसकी पहले प्लानिंग करते है. उनका हर कदम उनकी सोच का परिणाम होता है. वे कुछ भी काम युही नहीं करते बल्कि उस काम का रिजल्ट देखकर उस काम को करते है.

वे अपने फ्यूचर की प्लानिग करते है और फिर जी–जान से अपने फ्यूचर को बनाने में लग जाते है. आप भी खुद को सफल लोगो की तरह बनाये और भविष्य की योजना जरुर करे. जो भी करते हो पहले उसका रिजल्ट भी देख ले.

👍 फिट व स्वस्थ रहना
एक इन्सान के लिए फिट व हेल्थी रहना बहुत जरूरी है. जो फिट नहीं है वह हिट नहीं है. बिना स्वस्थ रहे आप कुछ भी बड़ा अचीव करने की सोच भी नहीं सकते. आपकी सफलता के पीछे आपके स्वास्थ्य का अहम रोल होता है. एक हेल्थी शरीर से आपके काम करने की पॉवर, प्रदर्शन, प्रोडक्टविटी व आपका माइंड भी स्वस्थ रहता है. जो आपको स्पेशल बनाता है.

सफल लोग अपने स्वास्थ्य को सबसे अधिक प्राथमिकता (Priority) देते है. वे जानते है की बिना बेहतर स्वास्थ्य के वे सफल नहीं बन सकते. अपने डेली बिजी लाइफ में से वे अपने स्वास्थ्य के लिए समय निकाल ही लेते है. वे रोजाना व्यायाम करते है और स्वयं के खानपान पर ध्यान देते है.

उनका हर पल साथ देने वाला स्वास्थ्य ही उनको सफलता दिलाता है और अपने काम में दक्ष बनाता है. तो आप भी अपने डेली रूटीन में हेल्थ को महत्व दे और रोज व्यायाम करे.

अधिकांश लोग अपनी लाइफ में इसलिए कुछ नहीं कर पाते क्योंकि वे सोचते है की उनके ऐसा करने पर दुसरे लोग क्या सोचेंगे. कोई इंजीनियरिंग छात्र कॉलेज पूरा होने के बाद अपना बिजनेस करने का मन बनाता है और दुसरे लोग क्या सोचेंगे इस बात के कारण वह बिजनेस शुरू नहीं करता तो यह उस इंसान की लाइफ की सबसे बड़ी मिस्टेक बन जाती है.

आप क्यों दुसरो की चिंता करते है की वे क्या सोचेंगे. अरे आपकी लाइफ है आपका जो मन है वो करे. दुसरे लोग तो कुछ अच्छा करने पर भी कुछ कमियाँ निकाल ही देते है. सफल लोग कभी भी इसकी परवाह नहीं करते की लोग उनके बारे में क्या सोचते है. वे अपने काम अपने लक्ष्य पर ध्यान देते है और उसे अच्छी तरीके से करने में विश्वास रखते है. उनको बिलकुल भी फर्क नहीं पड़ता की उनके बारे में लोग क्या बोल रहे है. उनके लिए क्या अच्छा है और क्या नहीं, वे सिर्फ वही जानते है. उनको पता है कोई दूसरा अपने लाइफ के अनुभव से उनकी लाइफ को नहीं बदल सकता.

उनको अपने काम से प्यार होता है और अपने काम में सफलता हासिल करना ही उनका प्रमुख लक्ष्य होता है. बाकि फ़ालतू चीजो की ओर वे ध्यान भी नहीं देते. इसलिए अब आप भी मत सोचे की लोग क्या कहेंगे. अगर आप कुछ कर रहे है तो लोगो की चिंता छोड़ दीजिये.

दोस्तों ! इस आर्टिकल में हमने आपके साथ सफल लोगो की 8 अच्छी आदते शेयर की जो हर सफल व्यक्ति अपनी लाइफ में अनुसरण करता है और खुद को सफलता की ओर बढाता रहता है. आप यह आर्टिकल में बताई गई इन आदतों को फॉलो करना शुरू करे. आपके नजदीकी लोगो को कुछ ही दिनों में आपकी व्यक्तित्व में एक दम बदलाव नजर आने लग जायेगा.

आप यह महसूस करने लग जाओगे की आपकी सोच एक सामान्य व्यक्ति की सोच से बेहतर बनती जा रही है. इसलिए इस आर्टिकल में बताई गई आदतों को सिर्फ पढना नहीं है बल्कि अपने जीवन में भी फॉलो करना है.
All the Best!
#Success #सफलता